मंगलवार, 24 जनवरी 2023

12th के बाद क्या करें साइंस स्टूडेंट - 12th के बाद कैरियर ऑप्शन इन हिंदी

 

12th ke baad kya kare | 12th के बाद क्या करे।
12th ke baad kya kare | 12th के बाद क्या करे।

12th के बाद क्या करें साइंस स्टूडेंट - 12th के बाद कैरियर ऑप्शन इन हिंदी 

दोस्तों अक्सर यह देखा गया है कि 12th के बाद क्या करे इस बात से  विद्यार्थियों को सबसे ज्यादा परेशानी होती है,  कि वह कौन सा कोर्स करें जिससे उनका कैरियर बन जाय। दोस्तो आज की हमारी इस पोस्ट 12th के बाद क्या करें साइंस स्टूडेंट - 12th के बाद कैरियर ऑप्शन इन हिंदी में हम आपको यह सब जानकारी देंगे कि 12th के बाद  क्या करे और उनके पास क्या क्या ऑप्शन है जिसमे वह अपने कैरियर को बना सके तो आइए दोस्तो शुरू करते है।

12th ke bad science student kya kare

दोस्तों   विज्ञान के स्टूडेंट के पास बहुत सारे ऑप्शन होते हैं जिसमें वह अपना कैरियर बना सकते हैं। 

 दोस्तों साइंस स्टूडेंट तीन तरह के  होते हैं:---------------


1. वह स्टूडेंट्स जिनके पास फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ ( PCM ) होता है।
2. वह स्टूडेंट्स जिनके पास फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी ( PCB )       
    होता है।
3. वह स्टूडेंट्स जिनके पास फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ्स,  बायोलॉजी (PCMB )  होता है । 

इसे भी पढ़े -  IAS कैसे बने पूरी जानकारी 

                   जज कैसे बने पूरी जानकारी

 वह स्टूडेंट्स जिनके पास फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ ( PCM ) होता है।


PCM के स्टूडेंट के पास हर एक फील्ड में जाने के ऑप्शन होते है जिसमे वह नीचे दिए गए किसी भी कोर्स को कर सकते है- 


1.  बी टेक / B. Tech

2.  डिग्री / graduation

3.   डिप्लोमा /Diploma

4.   एन डी ए / NDA

5.  फैशन डिजाइनर 

6.  न्यूज़ जर्नालिस्ट व

7.  होटल मैनेजमेंट

8.   बी सी ए/BCA

9. कृषि/agriculture


12th के बाद क्या करें साइंस स्टूडेंट - 12th के बाद कैरियर ऑप्शन इन हिंदी 

1.  बी टेक / B.tech 


 दोस्तों अगर आप इंजीनियर बनना चाहते हैं तो बीटेक आपके लिए कोर्स है दोस्तों बीटेक कोर्स 4 साल का होता है जिसके बाद आपको इंजीनियरिंग की डिग्री मिल जाती है। 

दोस्तो B.tech में अनेक ब्रांच होती है , आपको अपनी पसंद की ब्रांच से B.tech को करना होगा । 

  इलैक्ट्रिकल इंजीनियरिंग /Electrical engineering

 मेकैनिक इंजिनीरिंग /Mechanical engineering

 सॉफ्टवेयर इंजिनीरिंग/ Software engineering

ऑटोमोबाइल इंजिनीरिंग/Automobile engineering etc. 


ऐसे ही बहुत सारी ब्रांच होती है जिसको सब स्टूडेंट्स अपनी पसंद के हिसाब से करते है ।

दोस्तों अगर आप  बीटेक  करने के पश्चात  एक बहुत ही अच्छा करियर बनाना चाहते हैं  उसके लिए आपको बीटेक आईआईटी कॉलेज ( IIT) से करना होगा  लेकिन  आईआईटी (IIT) में  प्रवेश पाने के लिए एंट्रेंस एग्जाम देना होता है , एग्जाम में अच्छे नंबर आने के बाद  आपको इंजीनियरिंग कॉलेज मिलता है।


आईआईटी कॉलेज पाने के लिए आपको सबसे पहले JEE MAINS के एग्जाम के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा। Jee mains एग्जाम का फॉर्म दिसम्बर महीने में आता है जो कि एक महीने तक रहता है। 


 इस प्रवेश परीक्षा में पूरे भारतवर्ष के विद्यार्थी हिस्सा लेते हैं जोकि लगभग 10 से 20 अप्रैल के बीच आयोजित की जाती है तथा जिस का रिजल्ट मई के महीने में आ जाता है पूरे भारतवर्ष के सभी विद्यार्थियों के अंकों के आधार पर मेरिट लिस्ट लगाई जाती है इस परीक्षा में जो भी विद्यार्थी उत्तीर्ण हो जाते हैं उन्हें एक और एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है जिसके बाद ही उन्हें आईआईटी कॉलेज मिलता है JEE mains की परीक्षा में पास हुए विद्यार्थियों को एक बार फिर से  JEE advance नाम का एक ऑनलाइन फॉर्म भरना होता है। उसके बाद जो स्टूडेंट्स JEE advance एग्जाम को भी पास कर लेते है उनको मेरिट के आधार पर आईआईटी ( कॉलेज ) मिलता है। 

 बहुत से विद्यार्थी ऐसे होते हैं जोकि JEE mains  एग्जाम तो क्लियर कर लेते हैं लेकिन JEE advance के एग्जाम को वह पास नही कर पाते है। ऐसे स्टूडेंट्स एनआईटी ( national institute of engineering technology ) से  B.tech कर सकते है उसके लिए भी मैरिट लिस्ट के आधार पर NIT कॉलेज प्राप्त होते है लेकिन NIT कॉलेज केवल वही स्टुडेंट ले सकता है जिसने JEE mains का एग्जाम पास किया हो। 


लेकिन याद रहे अगर आपके अंक 75% से कम है तो आप आईआईटी ( IIT ) कॉलेज में प्रवेश नही ले सकते। क्योकि JEE advance एग्जाम में बैठने के लिए 12th में कम से कम 75% अंक होना अनिवार्य है ,लेकिन अगर आपके अंक 75% से कम है तब भी आप jee mains के एग्जाम को पास करके ऐनआईटी (NIT) कॉलेज में परिवेश ले सकते है। इसमें भी प्रवेश लेने के लिए काउंसलिंग की प्रक्रिया होती है। जब यहाँ से कोई स्टूडेंट B.tech करता है तो उसको देश की बड़ी-बड़ी कंपनियों द्वारा जॉब ऑफर की जाती है। 


 दोस्तो आईआईटी भारत का सर्वोच्च संस्थान माना जाता है इसीलिए इसमें प्रवेश के लिए बहुत ही ज्यादा मेहनत की आवश्यकता होती है । आईआईटी कॉलेज से  इंजीनियर बनने के बाद आपको देश और विदेश की बड़ी-बड़ी कंपनियां अपने पास बुलाती है तथा बहुत ही ज्यादा  अच्छी सैलरी मिलती है बहुत सी बड़ी-बड़ी कंपनियां जैसे कि गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, सैमसंग, जिओ, फेसबुक आदि जॉब ऑफर करती है जिसमे सैलरी भी लाखों रु महीने से भी ज्यादा होती है। आईआईटी कॉलेज से इंजीनियरिंग करने के पश्चात कम से कम सैलरी भी 2 लाख /महीने तक होती है।


दोस्तो इसके अलावा एकेटीयू ( abdul kalam technical university) 

भी B.Tech कराती है उसके लिए आपको UPTU का एग्जाम देना होगा। UPTU एग्जाम के लिए ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा वह भी दिसंबर माह में आपको एकेटीयू की वेबसाइट पर आ जाते है जो कि एक माह तक पोर्टल पर रहते है उसके बाद वह एंट्रेंस एग्जाम अप्रैल माह में होता है तथा उसमें मेरिट के आधार पर काउंसिल के जरिये सीट प्राप्त होती है। एकेटीयू से भी B.tech करना बहुत ही अच्छा माना जाता है यहाँ भी बड़ी बड़ी कंपनी जॉब ऑफर करती है। 


इसके अलावा भी आप चाहे तो आप अपने शहर या किसी दूसरे बड़े शहर में जाकर B.tech कर सकते है। बहुत सारे ऐसे उन्नत संस्थान है जो प्राइवेट होते हुए भी बहुत अच्छी शिक्षा प्रदान करते है तथा जहाँ पर भी बड़ी-बड़ी कंपनियों द्वारा स्टूडेंट को जॉब ऑफर की जाती है। लेकिन भले ही वह संस्थान प्राइवेट होते है लेकिन इसका यह मतलब बिल्कुल नही है कि वह किसी भी विद्यार्थी को प्रवेश दे। प्रवेश देने से पहले वह यह सुनिश्चित करते है कि स्टूडेंट B. tech करने के लायक़ है भी या नही। वह स्टूडेंट्स के 12th के अंकों के आधार पर ही उन्हें प्रवेश देते है। यह प्राइवेट संस्थान भी किसी बड़ी यूनिवर्सिटी से जुड़े रहते है। 


2. डिग्री /  Graduation 


 दोस्तों अगर आप गवर्नमेंट जॉब के रूप में अपना कैरियर बनाना चाहते हो या फिर रिसर्च करना चाहते हो तो आपको उसके लिए सबसे पहले ग्रेजुएट होना होगा ग्रेजुएशन के बाद ही आप गवर्नमेंट जॉब यह कोई भी सर्च कर सकते हो।


 दोस्तों ग्रेजुएट होने के लिए आप कोई भी कोर्स जैसे b.a. या बीएससी कर सकते हो यह सब को आप अपनी पसंद के हिसाब से चुनिए दोस्तों अगर आप सिर्फ सरकारी नौकरी  ही चाहते हैं तो आप  BA कर सकते हैं जरूरी नहीं है कि आप सिर्फ बीए ही करें यह आपकी पसंद पर निर्भर करता है लेकिन b.a. करना इसीलिए उचित होगा क्योंकि  BA बीएससी के मुकाबले आसान होता है इसीलिए ज्यादातर वह स्टूडेंट जो सरकारी जॉब पाना चाहते हैं वह बीए करते हुए गवर्नमेंट जॉब की तैयारी करते हैं 3 साल तक जब उनकी बीए कंप्लीट होती है तब तक वह गवर्नमेंट जॉब की तैयारी करते रहते हैं और जैसे ही ग्रेजुएशन पूरी हो जाती है वह को वर्नमेंट जॉब का एग्जाम देते हैं और उसे पास करने के पश्चात अपनी लाइफ को सेट कर लेते हैं लेकिन अगर आप चाहे तो बीएससी करते हुए भी गवर्नमेंट जॉब की तैयारी कर सकते हैं और गवर्नमेंट जॉब का एग्जाम देकर उसे पास कर सकते हैं।

 लेकिन याद रहे बीएससी में पास होना इतना आसान नहीं होता उसको पास करने के लिए काफी मेहनत करनी होती है क्योंकि उसमें फिजिक्स केमिस्ट्री मैथ और आपके पसंद के हिसाब से विषय होते हैं अगर आप बीएससी मैथ से करते हैं तो आपके पास फिजिक्स केमिस्ट्री मैथ तीनों सब्जेक्ट होंगे। अगर आप बीएससी बॉटनी से करते हैं तो आपके पास बॉटनी सब्जेक्ट होगा और अगर आप बीएससी किसी दूसरे सब्जेक्ट से करते हैं तो वह भी आपके पास ही होगा। उसको पास करने के लिए आपको बीएससी को भी पूरा टाइम देना होगा।


 अगर आप किसी विषय में कोई रिसर्च करना चाहते हैं तो इसके लिए आप बीएससी कीजिए जिस विषय में आप रिसर्च करना चाहते हैं आपको उसी विषय से बीएससी करनी होगी बीएससी कंप्लीट होने के बाद आप चाहे तो रिसर्च भारत के सर्वोच्च संस्थान आईआईटी से कर सकते हैं लेकिन आईआईटी से रिसर्च करने के लिए आपको एक एंट्रेंस एग्जाम जिसका नाम IIT JAM को पास करना होगा IIT JAM  एग्जाम को पूरे भारतवर्ष के सभी स्टूडेंट देते हैं जो भी एग्जाम में पास होता है वह काउंसलिंग के द्वारा प्राप्त हुए कॉलेजों से रिसर्च करता है।

अगर आप किसी सब्जेक्ट में मास्टर डिग्री देना चाहते हैं तो उसके लिए भी आपको सबसे पहले  बीएससी  करनी होगी बीएससी कंप्लीट होने के बाद आप एमएससी अर्थात मास्टर डिग्री कर सकते हैं।


 अगर आप टीचर बनना चाहते हैं तो उसके लिए आपको B.Ed या फिर बीटीसी कर सकते हैं।

B.ed करने के लिए आपको किसी भी विषय मे कोई डिग्री लेनी होगी लेकिन बीटीसी को आप 12th के बाद भी कर सकते है। B.ed  करने के बाद आपको टीचर की नोकरी इंटर स्कूल में मिलती है तथा बीटीसी करने के बाद टीचर की नोकरी प्राइमरी स्कूलों में मिलती है। 


इसमें में वही बात ध्यान देने योग्य है कि अगर आप B.ed  एंट्रेंस एग्जाम पास करने के पश्चात करते है तो आपको नोकरी के अवसर ज्यादा तथा जल्दी मिलते है साथ ही आपके B.ed करने के लिए खर्चा प्राइवेट कॉलेज के मुकाबले काफी कम होता है। 


अगर आप किसी डिग्री कॉलेज में किसी विषय के प्रोफेसर बनना चाहते है तो आपको उसके लिए संबंधित विषय से मास्टर डिग्री के साथ आपको PHD ( रिसर्च ) पूरी करनी होगी । उसके बाद ही आप किसी डिग्री कॉलेज के प्रोफेसर बन सकते है।

12th के बाद क्या करें साइंस स्टूडेंट - 12th के बाद कैरियर ऑप्शन इन हिंदी 

अगर आप किसी सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल बनना चाहते है तो आपको किसी एक विषय से मास्टर डिग्री करने के साथ PHD करनी होगी। आपकी PHD  पूरी होने के बाद ही आप किसी सरकारी इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य बन सकते है। 



3. डिप्लोमा / diploma


दोस्तो आप कोई भी विषय मे डिप्लोमा कर सकते है। बहुत सारे ऐसे स्टूडेंट होते है जो 12th के बाद डिप्लोमा करना पसंद करते है। डिप्लोमा में भी बहुत सारे ऐसे कोर्स है जिसको करने के बाद आपको नौकरी आसानी से मिल जाती है। आप चाहे तो कोई भी कंप्यूटर कोर्स का डिप्लोमा कर सकते है। वैसे ज़्यादातर स्टूडेंट  पॉलिटेक्निक करना पसंद करते हैं। पॉलिटेक्निक की ब्रांच होती है आप अपनी पसंद की ब्रांच के हिसाब से पॉलिटेक्निक कर सकते हैं उसमें भी आप को जॉब मिल जाती है अगर बात करें डिप्लोमा के दूसरे को उसकी जिसको सबसे ज्यादा लोग करना पसंद करते हैं वह आईटीआई आईटीआई के लिए बहुत लोग आवेदन करते हैं बहुत से स्टूडेंट तुरंत करते हैं आईटीआई करने लगते हैं आईटीआई करने से बहुत फायदे हैं रेलवे में बहुत सारी ऐसी वैकेंसी होती है जिसको सिर्फ आईटीआई किया हुआ व्यक्ति कर सकता है इसीलिए अगर आप आईटीआई में डिप्लोमा लेते हैं तो आपका रेलवे में जॉब थोड़ा आसान हो जाता है पर इसका मतलब बिल्कुल नहीं है कि फिर आईटीआई करने से ही रेलवे में जॉब लगती है आपको एग्जाम भी बात करना होता है उसके बाद ही आपकी जॉब लग जाती है लेकिन एक बात जरूर है आईटीआई कम लोग किए होते हैं और रेलवे में बहुत सी ब्रांच ऐसी होती है जिसमें आईटीआई कंपलसरी होती है इसीलिए उस तरह की जॉब में कंपटीशन बहुत कम होता है जिसे जॉब लगने में काफी आसानी होती है अतः आप आईटीआई करके भी अपना कैरियर बना सकते हैं वैसे ही बहुत सारे डिप्लोमा है करने के बाद आप कहीं ना कहीं जॉब कर सकते हैं।


4. एन डी ए / N D A 


 दोस्तों एनडीए का फुल फॉर्म होता है नेशनल डिफेंस एकेडमी अगर आप नेवी या फिर आर्मी में बड़ी पोस्ट पर जाना चाहते हैं तो उसके लिए आपको एनडीए का पेपर पेपर पास करना है पेपर पास करने के बाद आपको एनडीए द्वारा इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है नेशनल डिफेंस एकेडमी अर्थात एनडीए का इंटरव्यू 7 दिन तक चलता है इसमें रोजाना अलग-अलग लेवल के इंटरव्यू होते हैं जो भी विद्यार्थी नेशनल डिफेंस एकेडमी का पेपर पास करने के बाद उन 7 दिनों के इंटरव्यू में भी पास हो जाता है उसे भारतीय नेवी या भारतीय सेना में ऊंची पोस्ट प्राप्त होती है तो दोस्तों हर आपका सपना है कि आप एक नेवी ऑफिसर या फिर आर्मी ऑफिसर बने आपके लिए एनडीए 1 बेहतरीन विकल्प है जिसको करने के बाद आप अपने सपने को पूरा कर सकते हैं दोस्तों एनडीए का सिलेबस जो होता है वह आपके ट्वेल्थ के साइंस सिलेबस के बराबर होता है जो एनडीए एंट्रेंस एग्जाम कराती है उसमें वह आपके ट्वेल्थ क्लास के सिलेबस में से ही पूछती हैं अतः आपको NDA का पेपर पर पास करने के लिए आपकी 12वीं के कोर्स को बहुत ही अच्छी तरह से पढ़ना होगा और साथ ही आपका फिजिकल भी बहुत अच्छा होना चाहिए एनडीए के इंटरव्यू में पास होने के लिए फिजिकली और मेंटली हर तरह से  मजबूत होना पड़ता है तभी एनडीए के पेपर तथा इंटरव्यू को पास कर पाएंगे अतः अगर आप पूरी मेहनत से तैयारी करेंगे तो आप निश्चित ही सफलता प्राप्त करेंगे।

12th के बाद क्या करें साइंस स्टूडेंट - 12th के बाद कैरियर ऑप्शन इन हिंदी 

5. फैशन डिजाइनर / fashion designer 


दोस्तों अगर आप भी फैशन डिजाइनिंग के कोर्स में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो यह कोई मुश्किल काम नहीं है बस आपके अंदर एक हुनर होना चाहिए जिससे आप क्रिएटिविटी कह सकते हैं अगर आपके मन में भी कपड़ों को देखकर नई नई तरह की डिजाइन आते हैं तो इसका मतलब आप के अंदर भी फैशन डिजाइनिंग का हुनर मौजूद है ।

 दोस्तों जैसे सभी कोर्सों के लिए कोई न कोई पढ़ाई आवश्यक होती है ऐसे ही फैशन डिजाइनर बनने के लिए भी आपको fashion designing course करना होगा  उसको उसको करने के लिए आपके पास मिनिमम क्वालिफिकेशन ट्वेल्थ पास होनी चाहिए ट्वेल्थ पास होने के बाद ही आप फैशन डिजाइनिंग का कोर्स कर सकते हैं फैशन डिजाइनिंग के कोर्स जैसे  बीएससी फैशन डिजाइनिंग B tech textile branch से करके आप फैशन डिज़ाइनर बन सकते हैं अगर आप फैशन डिजाइनिंग का कोर्स एनआईटी कॉलेज से करते हैं तो आपका कैरियर ज्यादा ब्राइट होने के चांस होते हैं क्योंकि एनआईटी कॉलेज भारत के सर्वश्रेष्ठ संस्थानों में ही माने जाते हैं अगर बात करें फैशन डिजाइनिंग कोर्स की फीस की तो यह आपके कोर्स पर निर्भर करती है अब फैशन डिजाइनिंग कोर्स में जो भी कुछ करना चाहते हैं उसके अनुसार ही होती है।

 fashion designing course 1 से 4 साल तक के होते हैं जोकि आपके पसंद किए गए कोर्सों के अनुसार होते हैं fashion designing course आपके लिए बहुत बेहतर हो सकता है क्योंकि यह है कभी न बंद होने वाला  कोर्स है जिस की डिमांड हमेशा ही रहती है।

बहुत सारे ऐसे भी प्राइवेट कॉलेज होते हैं जोकि फैशन डिजाइनिंग का कोर्स बहुत अच्छी तरह से कर आते हैं और आप वहां से भी फैशन डिजाइनिंग का कोर्स करके अपना कैरियर बना सकते हैं।


6. न्यूज़ जर्नलिस्ट 


 दोस्तों अगर आपको किसी का इंटरव्यू लेना या खबरों का मुआवजा करना काफी पसंद है तो आपके लिए न्यूज जर्नलिस्ट का कोर्स बेहतर हो सकता है आप न्यूज़ चैनल में अपना करियर बना सकते हैं इसके लिए आपको न्यूज़ जनरलिस्ट का कोर्स करना होगा बहुत सारे ऐसे शिक्षण संस्थान है जो नियोजन रेस्ट का कोर्स कर आते हैं जिसको करने के बाद आप किसी प्रेस में न्यूज जर्नलिस्ट्स के रूप में नियुक्त किए जा सकते हैं न्यूज़ चैनल लिस्ट का भी केरियर बहुत ही अच्छा होता है लेकिन उसके लिए आपको काफी मेहनत करनी पड़ेगी क्योंकि ऐसा कोई भी फ्रेंड नहीं है जिसमें कंपटीशन कम हो लेकिन हां फिर भी बाकी मुकाबलों में न्यूज़ चैनल लिस्ट में थोड़ा काम कंपटीशन है अगर आप अच्छे से मेहनत करेंगे और आपको प्रेजेंटेशन होने का तरीका अच्छा होगा तो आप एक सक्सेसफुल न्यूज़ जनरलिस्ट बन सकते हैं न्यू जनरलिस्ट में आप एंकर या कैमरामैन एडिटर जैसे बहुत सारे पदों में से किसी भी पद पर नियुक्त किए जा सकते हैं जिनकी कमाई भी अच्छी खासी  होती है


 7. होटल मैनेजमेंट /hotel management


 दोस्तों अगर आपको Hotel Management  अपना करियर बनाना है तो उसके लिए आपको सबसे पहले ट्वेल्थ को पास करना होगा ट्वेल्थ पास करने के बाद ही आप होटल मैनेजमेंट का कोर्स कर सकते हैं बहुत सारे ऐसे संस्थान हैं जो होटल मैनेजमेंट का कोर्स कराते हैं आप उनमें से ही किसी अच्छे संस्थान में होटल मैनेजमेंट का कोर्स करके अपने कैरियर को सुनहरा बना सकते हैं।


8.   बी सी ए/BCA


दोस्तों बीसीए का फुल फॉर्म होता है बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन अगर आप कंप्यूटर विषय में रुचि रखते हैं या फिर आपको नए नए सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन या वेबसाइट को देखना या बनाना बहुत पसंद है तो आपके लिए बीसीए एक बेहतर कैरियर ऑप्शन हो  सकता है

 दोस्तों यह एक computer application course है जिसको करने के पश्चात आपको अपना कैरियर बनाने के लिए बहुत सारे ऑप्शन मिल जाते हैं बीसीए करने के लिए आपको ट्वेल्थ की परीक्षा में अच्छे अंको से पास होना पड़ेगा उसके बाद ही आप किसी संस्थान से बी सी ए का कोर्स कर सकते हैं वैसे तो इसे सिर्फ वह साइंस स्टूडेंट ही कर सकते हैं जिनके पास फिजिक्स केमिस्ट्री और मैथ सब्जेक्ट है लेकिन कुछ ऐसी यूनिवर्सिटी अभी है जो किसी भी सब्जेक्ट  से ट्वेल्थ पास होने के बाद भी आपको पीसीए करने का मौका देती है और अगर बात करें बीसीए में कैरियर स्कोप की तो आप जानते ही हैं पूरा विश्व डिजिटल हो चुका है और आगे भी मैं नहीं डिजिटल एक्सपेरिमेंट होते रहते हैं जिसके चलते बीसीए में बहुत ही अच्छा कार्य है और अगर आप चाहे तो आप खुद की वेबसाइट एप्लीकेशन या सॉफ्टवेयर बनाकर अच्छे खासे दामों में बेच सकते हैं यह 3 वर्ष का computer application course है जिसमें प्रत्येक वर्ष 2 सेमेस्टर होते हैं। अगर आपको कंप्यूटर विषय में काफी अच्छी रूचि है तो आपके लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है।


9. कृषि/agriculture


 दोस्तों अगर आपको खेती में रुचि है आपके लिए एग्रीकल्चर का कोर्स एक अच्छा विकल्प हो सकता है वैसे भी दोस्तों अपना देश एक कृषि प्रधान देश है इसमें ज्यादा से ज्यादा  खेती की जाती है  भारतीय कृषि को जरूरत है तो सिर्फ कुछ ऐसे उपकरणों भारतीय कृषि को बढ़ावा दें अगर आप ऐसे ही श्री के फील्ड में अधिक रूचि रखते हैं तो आपके लिए बीएससी एग्रीकल्चर का कोर्स बेस्ट रहेगा बीएससी एग्रीकल्चर का कोर्स 4 वर्षों का होता है जिसको करने के बाद आप सरकारी या प्राइवेट किसी भी जगह नौकरी कर सकते हैं और अच्छी खासी आपकी सैलरी रहती है अगर आपके पास खेती के लिए काफी जमीन है तो आप अपनी खेती में नए-नए तरीकों से अधिक फसल को उगा सकते हैं जिससे आपको काफी अच्छा मुनाफा होगा अगर आप भारतीय कृषि को और भी मजबूत करना चाहते हैं और आपके मन में तरह-तरह के आईडी आते हैं जिससे आप भारतीय कृषि को अधिक से अधिक मजबूत बना सकते हैं तो आपको बीएससी एग्रीकल्चर का कोर्स जरूर करना चाहिए जिससे भारत अधिक से अधिक अनाज की उपज पैदा कर सकें और यह हमेशा ही डिमांड में रहने वाला कौन है।


12th के बाद क्या करें साइंस स्टूडेंट - 12th के बाद कैरियर ऑप्शन इन हिंदी 

     स्टूडेंट्स जिनके पास फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी ( PCB )       

    होता वह है।

12th ke baad kya kare | 12th के बाद क्या करे।
12th ke baad kya kare | 12th के बाद क्या करे।


 दोस्तों हमारी पोस्ट 12th के बाद क्या करें में अब हम बात करने वाले हैं कि ऐसे स्टूडेंट जिनके पास पीसीबी(PCB) है वह 12th के बाद क्या कर सकते हैं, तो चलिए दोस्तों जानते हैं कि PCB वाले स्टूडेंट 12th के बाद क्या कोर्स कर सकते हैं जिसे वह अपना कैरियर बना सकें।


1. एम बी बी एस / MBBS 


  बायोलॉजी से 12th करने वाले अधिकतर स्टूडेंट्स की पहली पसंद होता है डॉक्टर बनना। डॉक्टर बनने के लिए आपको MBBS करना बेहतर ऑपशन होगा। MBBS करने के लिए आपको सरकारी या प्राइवेट किसी कॉलेज से MBBS की डिग्री लेनी होगी। 

अगर आप 12th में है या आपने 12th कर लिया है तो आप NEET का एग्जाम देकर MBBS कर सकते है । Neet एक एंट्रेंस एग्जाम होता है जिसको पास करने के बाद आपको  सरकारी कॉलेज से एमबीबीएस करने का मौका मिलता है लेकिन याद रहे की आपको neet का एग्जाम क्लियर करने के बाद इसका सेकंड एग्जाम AIIMS को पास करना होगा जबाब दो एग्जाम को पास कर लेते हैं उसके बाद ही आपको मेरिट के हिसाब से सरकारी कॉलेज में एडमिशन प्राप्त होता है। AIIMS  का एग्जाम पास करने के बाद जो कॉलेज मिलता है वह भारत का सर्वश्रेष्ठ मेडिकल कॉलेज में से होते हैं और सरकारी कॉलेज से एमबीबीएस करने का यह भी फायदा है कि एक तो आप भारत के सर्वश्रेष्ठ डॉक्टरों में से एक बनते हैं ,साथ ही साथ इसकी फीस प्राइवेट के मुकाबले बहुत कम होती है अगर आपको हम बता दे तो प्राइवेट कॉलेजों की एमबीबीएस कोर्स की फीस लगभग 15 लाख प्रति वर्ष होती है।

 जिसको एक मिडल क्लास फैमिली को दे पाना असंभव होता है।क्योंकि एमबीबीएस कोर्स 5 वर्ष का होता है इसीलिए प्रत्येक वर्ष 15 -15 लाख के हिसाब से देना मध्यम वर्गीय परिवार के लिए असंभव है ।इसीलिए अधिकाधिक लोग NEET के एंट्रेंस एग्जाम को देते हैं और अपना डॉक्टर बनने का सपना पूरा करने की कोशिश करते हैं। लेकिन NEET का एग्जाम पास करना आसान नहीं है, क्योंकि यह मेडिकल क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ संस्थान में प्रवेश पाने के लिए एग्जाम होता है। जिसके लिए पूरे भारत के विद्यार्थी जो डॉक्टर बनना चाहते हैं,  वह सब इस एग्जाम को देते हैं। नीट एग्जाम का कोर्स आपके इलेवंथ और ट्वेल्थ के बोर्ड के कोर्स के आधार पर ही होता है, अगर 12th और 11th को अच्छे से किया गया हो तो  एग्जाम पास करना कोई मुश्किल काम नहीं है। अतः अगर आपको डॉक्टरी फील्ड में जाना है तो इसके लिए आपको बहुत मेहनत करनी होगी।


2. बी एच् एम एस / BHMS ( bachelor of homeopathy medicine and surgery ) 



दोस्तो यह भी आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है। इस 5 वर्षीय कोर्स को करने के बाद आप मेडिकल में लेक्चरर, डॉक्टर, मेडिकल साइंटिस्ट जैसे बड़े पद पर नौकरी कर सकते है। इसके लिए भी आपको NEET का एग्जाम पास करने के बाद गवर्नमेंट कॉलेज में प्रवेश ले सकते है। अगर आप चाहे तो आप किसी प्राइवेट मेडिकल कॉलेज से भी यह कोर्स कर सकते है। 

दोस्तो इस कोर्स को करने के लिए NEET का एग्जाम देना थोड़ा आसान होता है। क्योंकि अधिकतर NEET का एग्जाम देने वाले विद्यार्थी MBBS करना पसंद करते है। अतः अगर आप नीट का एग्जाम देकर यह कोर्स करना चाहे तो आप कर सकते है क्योंकि इसमें कॉम्पिटिशन  कम होता है। 


3. बी ए एम एस / BAMS ( bachelor of ayurvedic medicine and surgery ) 


यह तीन  वर्ष का मेडिकल कोर्स होता है जैसे कि नाम से ही पता चलता है यह है एक आयुर्वेदिक मेडिसिन का कोर्स है इसको करने के बाद आप रु 30,000 से ₹40000 प्रति माह आराम से कमा सकते हैं यह भी आपके लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है


4.  बी यू एम एस / BUMS ( Bachelor of Unani medicine and surgery)


 यह एक यूनानी कोर्स होता है जो कि भारत में केवल 35 ही कॉलेज कराते हैं दोस्तों यूनानी तरीके से उपचार करना बहुत ही पुराने समय से इस्तेमाल किया जा रहा है इसीलिए इसके कॉलेज भी उपलब्ध है जो यह कोर्स कराते हैं यह कोर्स लगभग  5.5 साल का होता है इस कोर्स करने वाले विद्यार्थियों को हकीम कहा जाता है जो प्राइवेट तरीके से भी पैसे कमा सकते हैं इस कोर्स को करने वाले विद्यार्थी दस- बीस हजार रुपे आसानी से कमा सकते हैं।


5. बी डी एस / BDS (  Bachelor of dental surgery) 


यह मेडिकल के छात्रों की दूसरी सबसे पसंदीदा डिग्री मानी जाती है यह 4 वर्ष का कोर्स होता है जिसके बाद 1 वर्ष इंटर्नशिप करनी होती है।

4 वर्ष के इस कोर्स को तथा 1 वर्ष की इंटर्नशिप को करने के बाद आप डेंटिस्ट की प्रैक्टिस के लिए तैयार हो जाते हैं सर आपके नाम के आगे डॉक्टर भी जुड़ जाता है।

  इसको  करने के लिए आपको नीट के एग्जाम को क्वालीफाई करने के बाद अथवा स्टेट लेवल के एग्जाम को क्वालीफाई करने के बाद एडमिशन प्राप्त होता है इस कोर्स को करने के बाद आप अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं यह आपके लिए बेहतर विकल्प हो सकता है।


6 बी पी टी / B P T (  bachelor of physio therapy )


 यह एक बहुत ही शानदार कोर्स है जिसमें अगर आप किसी फील्ड में अच्छे हैं तो आप किसी बड़ी टीम के साथ काम करके अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं मेडिकल स्टूडेंट्स के लिए यह एक काफी अच्छी अपॉर्चुनिटी होती है खुद को मेडिकल फील्ड में साबित करने की अतः यह कोर्स आपके लिए काफी बेहतर हो सकता है साथ ही आप इसमें बहुत अच्छे खासे पैसे तथा नाम कमा सकते हैं।


7 बी फॉर्म/ B. Pharma (  Bachelor in pharmacy) 


 यह डिग्री भी मेडिकल छात्रों को अपनी और बहुत अधिक आकर्षित करती है क्योंकि इसमें दवाइयों से जुड़ी हर बारीकियों को सिखाया जाता है तथा अनुभव के साथ साथ इसमें सैलरी भी बढ़ती रहती है बी फार्म करने के बाद आप फार्म को भी कर सकते हैं जिसको करने के बाद आपकी सैलरी और भी अधिक पड़ जाती है शुरुआत में जहां उसकी सैलरी मात्र दो लाख से शुरू होती है धीरे-धीरे यह आपके अनुभव के आधार पर बढ़ती जाती है आप को जितना अधिक अनुभव होगा उसी के हिसाब से आपकी सैलरी भी बढ़ती जाएगी यह भी मेडिकल के छात्रों की काफी अच्छी पसंद है आपके लिए यह कोई भी बेहतर हो सकता है। 

12th के बाद क्या करें साइंस स्टूडेंट - 12th के बाद कैरियर ऑप्शन इन हिंदी 

 वह स्टूडेंट्स जिनके पास फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ्स,  बायोलॉजी (PCMB )  होता है । 


 दोस्तों अगर आप ऐसे ही स्टूडेंट है जिसके पास फिजिक्स ,केमिस्ट्री, मैथ्स और बायोलॉजी है तो आप ऊपर दिए गए किसी भी कोच को कर सकते हैं आपके लिए सारे रास्ते खुले हैं आप इनमें से किसी ने भी अपना कैरियर बना सकते हैं




निष्कर्ष - दोस्तों इस पोस्ट (12th के बाद क्या करे )के माध्यम से हमने आपको मेडिकल से जुड़े बहुत सारे कोर्सों के बारे में बताया तथा उनकी सैलरी तथा उनके फायदों के बारे में भी आपको बताया इसके अलावा भी आपको मेडिकल के बहुत सारे कोर्स मिल जाएंगे जिन्हें आप करके ठीक ठाक पैसे कमा सकते हैं लेकिन हमने यह आपको केवल उन्हीं कोर्सों को बताया है जिसमें आप काफी अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं और आगे भी सीखते रह सकते हैं आशा करता हूं दोस्तों की आपको हमारी पोस्ट( 12th के बाद  क्या करे )  पसंद आई होगी अगर आपको हमारी पोस्ट में कोई  कमी दिखाई देती है तथा आपके पास कोई बेहतर सुझाव हो तो कृपया हमें ईमेल के माध्यम से अथवा कमेंट के माध्यम से बताएं जिससे हम अपनी गलती को जल्द से जल्द सुधार सकें।

 एक बार कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको हमारी पोस्ट 12th के बाद क्या करें साइंस स्टूडेंट - 12th के बाद कैरियर ऑप्शन इन हिंदी  कैसी लगी?


 हमारी पोस्ट पर आने के लिए आपका धन्यवाद!



हमारी कुछ अन्य महत्वपूर्ण पोस्ट 

 IAS ऑफिसर कैसे बने? | कलेक्टर कैसे बने? 

◆ जज कैसे बने? 

◆ सरकारी डॉक्टर कैसे बने?

SSC- GD क्या होता है?

◆ फैशन डिजाइनर कैसे बने? 

◆ ccsu- B.A, B.Sc, B.com रिजल्ट

◆ IPS ऑफिसर कैसे बने?

◆ लोको पायलट कैसे बनें? 

  सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बनते है?| 12 ke bad software engineer kaise bane

Disqus Comments