शनिवार, 19 फ़रवरी 2022

SDM कैसे बने - SDM kais bane in hindi

 SDM कैसे बने - SDM kais bane in hindi 

style="margin-left: auto; margin-right: auto;">sdm-kaise-bane-in-hindi
SDM कैसे बने - SDM kais bane in hindi 


दोस्तों कोई भी गवर्नमेंट जॉब पाने के लिए बहुत मेहनत करनी पडती है, ऐसे ही एक पोस्ट के बारे में हम बात करने वाले है जिसका नाम है SDM. दोस्तों यह एक बहुत ही सम्मानित पद है, देशभर में लाखो लोग SDM बनना चाहते है अगर आप भी SDM बनना चाहते है और SDM बनने से सम्बन्धित सभी जानकारी जानना चाहते है तो आप एकदम सही जगह आये है आज हम अपनी इस पोस्ट में आपको SDM बनने से सम्बंधित सभी जानकारी देने वाले है. चलिए पोस्ट को शुरू करते है.

SDM क्या होता है

दोस्तों  SDM का फुल फॉर्म sub- divisioal musistrate होता है इसे हिंदी में उप प्रभागीय न्यायधीश भी कहते है. एक जिले में एक ही SDM अधिकारी नियुक्त किया जाता है. यह एक बहुत ही बड़ा पद है इस पद को पाने का लाखो स्टूडेंट का सपना होता है जिसके लिए एक एग्जाम आयोजित किया जाता है. इस एग्जाम में प्रत्येक वर्ष लाखो लोग प्रतिभाग करते है परन्तु कुछ ही सफल हो पाते है.

SDM के कार्य

दोस्तों SDM के कार्य कई तरह के होते है जिनमे से कुछ कार्य जैसे- मैरीज हाल को परमीशन देना, अपने जिले में किसी भी प्रकार की प्रकार्तिक आपदा में लोगो के लिए राहत अभियान चलाना, बाल अपराध जैसे  मामले में निर्णय लेना और साथ ही कई प्रकार के licance जारी करना होता है.

SDM कैसे बने

  • सबसे पहले अपनी ग्रेजुएशन किसी भी विषय में भारत के किसी भी मान्य कॉलेज से पूरी करे.
  • ग्रेजुएशन पूरी होने के बाद आप जिस भी स्टेट में SDM बनना चाहते है उस स्टेट के लिए pcs के फॉर्म के लिए आवेदन करे.
  • उसके बाद आप प्रीलिम्स एग्जाम को पास करे.
  • अब मैन्स  एग्जाम को पास करे.
  • अब इंटरव्यू को पास करे.

SDM बनने के लिए एग्जाम

दोस्तों जिस प्रकार आईएस, आईपीएस बनने के लिए UPSC एग्जाम आयोजित करती है ठीक उसी प्रकार SDM बनने के लिए psc  [ public service commision ]  एग्जाम आयोजित करती है. यह एग्जाम प्रत्येक राज्य के लिए अलग-अलग नाम से आयोजित होता है. अगर यह एग्जाम up में आयोजीत होता है तो इसका नाम uppsc होता है , ठीक उसी प्रकार जब एग्जाम बिहार राज्य के लिए आयोजित किया जाता है तो इसका नाम BPSC होता है. इसी प्रकार अन्य सभी राज्यों के नाम के आगे psc लग जाता है.

SDM बनने के लिए क्वालिफिकेशन

दोस्तों SDM बनने के के लिए आपको कम से कम ग्रेजुएट होना पड़ेगा, अगर आप ग्रेजुएशन के अंतिम वर्ष में है तब भी आप SDM बनने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है. अगर आपने कोई डिप्लोमा कोर्स किया है तो ऐसे में आप SDM बनने के लिए आवेदन नही कर सकते है.

sdm बनने के लिए आपको कोई भी ग्रेजुएशन कोर्स जैसे- बी.ए , बी.एससी , बी.कॉम या किसी भी प्रकार की मेडिकल कोर्स में डिग्री होनी चाहिए.

SDM बनने के लिए ग्रेजुएशन में कितने प्रतिशत अंक चाहिए.

दोस्तों SDM बनने के लिए कोई भी अंक निर्धारित नही किये गये है, अगर आप अपनी ग्रेजुएशन को 33 प्रतिशत अंको से भी पास करते है तब भी आप SDM बनने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है.

SDM बनने के लिए उम्रसीमा [age limit ]

दोस्तों SDM बनने के लिए उम्रसीमा अलग-अलग केटेगरी के लिए अलग-अलग रखी गयी है जो की इस प्रकार है-

  • GEN कैटेगरी के लिए मिनिमम 21 वर्ष और अधिकतम 40 वर्ष रखी गयी है.
  • OBC  कैटेगरी के लिए मिनिमम 21 वर्ष और अधिकतम 4 वर्ष रखी गयी है.
  • SC / ST कैटेगरी के लिए मिनिमम 21 वर्ष और अधिकतम 45 वर्ष रखी गयी है.
  • PWD कैटेगरी के लिए मिनिमम 21 वर्ष और अधिकतम 55 वर्ष रखी गयी है.

दोस्तों उम्र में यह छुट केवल उस प्रदेश के कैंडिडेट को ही मिलेगी जिस कैंडिडेट ने अपने ही राज्य में SDM बनने के लिए आवेदन किया है. अगर आप अपने प्रदेश के अलावा किसी अन्य प्रदेश में SDM बनने के लिए आवेदन करना चाहते है तो ऐसे में आपको कोई उम्र में छुट नहीं मिलेगी फिर चाहे आप किसी भी कैटोगरी के कैंडिडेट हों.

SDM बनने के लिए कितने एग्जाम होते है

दोस्तों SDM बनने के लिए आपको तीन एग्जाम को पास करना होता है तभी आप SDM बन सकते है. यह तीन एग्जाम इस प्रकार होते है-

प्रीलिम्स

मैन्स

इंटरव्यू

 

प्रीलिम्स 

 दोस्तों प्रीलिम्स एग्जाम sdm बनने की प्रक्रिया का सबसे पहला एग्जाम होता है. इस एग्जाम में दो पेपर होते है-

जनरल स्टडीज 1
जनरल स्टडीज 2

मैन्स

दोस्तों यह sdm बनने का दूसरा चरण होता है, यह एग्जाम सबसे महत्वपूर्ण एग्जाम होता है क्योकि इस एग्जाम के अंक के आधार पर ही फाइनल मैरिट बनती है. इस एग्जाम में टोटल 8 पेपर होते है और सभी पेपर के लिए 3-3 घंटे का समय दिया जाता है. जो 8 पेपर देने है वो इस प्रकार है-

जनरल हिन्दी
essay
जनरल स्टडीज 1
जनरल स्टडीज 2
जनरल स्टडीज 3
जनरल स्टडीज 4
ऑप्शनल सब्जेक्ट- पेपर 1
ऑप्शनल सब्जेक्ट- पेपर 2

 

इंटरव्यू

यह SDM बनने का सबसे अंतिम चरण होता है, इंटरव्यू को पास करने के बाद आपको किसी भी जिले में sdm के पद पर नियुक्त कर दिया जाता है. इंटरव्यू में आपसे आपकी तर्क शक्ति से सम्बंधित सवाल, आपकी सोच से सम्बंधित सवाल पूछे जाते है.

sdm का सिलेबस

दोस्तों अब बात करते है sdm के सिलेबस के बारे में जैसा की आप सब जानते है की sdm बनने के लिए प्रिलीम्स और मैन्स एग्जाम होते है. हम आपको दोनों एग्जाम के सिलेबस के बारे में बताते है.

प्रीलिम्स एग्जाम सिलेबस

दोस्तों प्रीलिम्स एग्जाम में दो पेपर होते है, जनरल स्टडीज 1 और जनरल स्टडीज 2.

जनरल स्टडीज 1

जनरल स्टडीज 1 में आपसे 150 क्वेश्चन पूछे जाते है जो की  200 अंक के होते है. इस एग्जाम के लिए आपको 2 घंटे का समय मिलता है.

इस एग्जाम में आपसे करंट से सवाल पूछे जाते है और साथ ही indian history, indian & world geography, इकोनोमिक, इंडियन पोलिटी, गवर्नेंस, जनरल साइंस, सोशल देवेलोप्मेंट आदि से सवाल पूछे जाते है.

जनरल स्टडीज 2

जनरल स्टडीज 2 में आपसे 100 क्वेश्चन पूछे जाते है जो की  200 अंक के होते है. इस एग्जाम के लिए भी आपको 2 घंटे का समय मिलता है.

यह एक क्वालिफिकेशन पेपर होता है. इस एग्जाम के अंक मेरीट बनते समय नही जुड़ते, लकिन फिर भी इस एग्जाम को पास करना जरूरी होता है. इस एग्जाम को पास किए बिना आप अगले चरण के लिए नही जा सकते. इस एग्जाम में आपसे गणित, इंग्लिश, रीजनिंग और हिंदी से सवाल पूछे जाते है. इसमे जो सवाल पूछे जाते है वह 10 वी लेवल पर होते है.

मैन्स एग्जाम सिलेबस

दोस्तों जैसा की आपको ऊपर पोस्ट में बताया गया है की मैन्स एग्जाम में 8 पेपर होते है, आइये जानते ही कि उन 8 एग्जाम का सिलेबस क्या है.

 

जनरल हिन्दी

इसमे 50 अंको के क्वेश्चन  पूछे जाते है जिसमे शब्द ज्ञान और उनके प्रयोग, उपसर्ग और प्रत्यय प्रयोग, तार लेखन और वर्तनी, वाक्य शुद्ध जैसे सवाल पूछे जाते है.

essay

इसमे तीन सेक्शन होते है प्रत्येक सेक्शन में आपको तीन-तीन टॉपिक दिए जायंगे आपको उन तीनो सेक्शन से एक-एक टॉपिक को सेलेक्ट करके essay लिखना है, इस essay को कम से कम 700 वर्ड्स  में लिखना होगा जिसके लिए आपको 3 घंटे का समय दिया जाता है.

जनरल स्टडीज 1

इसमे आपसे ही indian history, indian & world geography, इकोनोमिक, इंडियन पोलिटी, गवर्नेंस, जनरल साइंस, सोशल देवेलोप्मेंट आदि से सवाल पूछे जाते है.

जनरल स्टडीज 2

इसमें भी आपसे indian history, indian & world geography, इकोनोमिक, इंडियन पोलिटी, गवर्नेंस, जनरल साइंस, सोशल देवेलोप्मेंट आदि से सवाल पूछे जाते है.

जनरल स्टडीज 3

इसमें भी आपसे indian history, indian & world geography, इकोनोमिक, इंडियन पोलिटी, गवर्नेंस, जनरल साइंस, सोशल देवेलोप्मेंट आदि से सवाल पूछे जाते है.

 

जनरल स्टडीज 4

इसमे आपसे ethis से सवाल पूछे जाते है, ethis का मतलब होता है आचार विचार, इस एग्जाम में जो भी एग्जाम पूछे जाते है उसके जवाब आपके विचार होते है.

ऑप्शनल सब्जेक्ट- पेपर 1 और 2

दोस्तों इस एग्जाम में दो पेपर होते है जो को की 29 सब्जेक्ट से पूछे जाते है. ये 29 सब्जेक्ट जूलॉजी, boatny, इंजीनियर से सम्बंधित बहुत सारे होते  है आप अपनी पसंद के हिसाब से कोई भी एग्जाम दे सकते है.

SDM ऑफिसर की सैलरी

दोस्तों एक SDM ऑफिसर की सैलरी शुरुवाती 56100 रु के मासिक वेतन से शुरू होती है और समय के साथ-साथ ये बढती जाती है. एक sdm ऑफिसर को सैलरी के साथ-साथ अन्य सुविधायें जैसे की बंगला, गाड़ी, नौकर, बिजली, मेडिकल आदि सब फ्री मिलता है.

sdm की तैयारी कैसे करें

दोस्तों अगर अपने अपने मन में निश्चय बना लिया है की आपको sdm ही बनना है तो उसके लिए पहले ही महनत करनी होगी. आपको अपनी करंट अफयेर्स को मजबूत बनना होगा. आपको डेली रूटीन बनाकर पढना होगा और अच्छे से मेहनत करनी होगी. अगर आप अच्छे से मेहनत करते है तो आप निश्चय ही एक sdm ऑफिसर बन जायंगे. दोस्तों अगर आप sdm के PRIVIOUS ईयर के पेपर को सोल्व करते है तो इससे आपको एग्जाम किस तरह का आता है इसका अंदाजा हो जायगा और यह आपको एग्जाम को पास करने में बहुत मदद करेगा.

निष्कर्ष

दोस्तों हमारी इस पोस्ट SDM कैसे बने - SDM kais bane in hindi  में हमने आपको sdm बनने से सम्बंधित सारी जानकारी दी है और साथ ही आपको एग्जाम के सिलेबस के बारे में भी पूरी जानकारी दी है. आशा करते है की आपको हमारी यह पोस्ट जरूर पसंद आई होगी. अगर आपको हमारी पोस्ट की जानकरी लाभकारी लगी हो तो कृपया कमेंट करके अवश्य बताएं. हमारी पोस्ट पर आने के लिए आपका धन्यवाद.

 

 

Disqus Comments