शनिवार, 10 सितंबर 2022

दरोगा कैसे बनें | daroga kaise bane

Daroga-kaise-bane-hindi
दरोगा कैसे बनें | daroga kaise bane 

हैलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का हमारे नई पोस्ट दरोगा कैसे बनें | daroga kaise bane  में दोस्तों अगर आप भी दरोगा बनना चाहते हैं तो आप एकदम सही पोस्ट पर आए हैं आज हम  अपनी इस पोस्ट में दरोगा बनने की पूरी जानकारी देंगे।आपके मन में उठने वाले सवाल जैसे कि दरोगा कैसे बने|daroga kaise bane, दरोगा बनने के लिए हाइट कितनी चाहिए, दरोगा बनने के लिए पेपर कौन सा देना होता है और उसके लिए एज लिमिट क्या है इन सभी सवालों के जवाब हमारे इस पोस्ट में आपको मिलेंगे। 

दरोगा (SI) कौन होता है

दोस्तों दरोगा एक पुलिस चौकी का प्रभारी होता है जोकि पूरी पुलिस स्टेशन की देखरेख करता है दरोगा की पोस्ट कॉन्स्टेबल वह हेड कॉन्स्टेबल से ऊंची होती है।

एक दरोगा को सब-इंस्पेक्टर (SI) भी कहते हैं दरोगा के अंडर में पूरी पुलिस चौकी आती है जिसकी देखरेख करना दरोगा का कार्य होता है उस पुलिस चौकी के एरिया में जो भी कोई अपराध या घटनाएं होती है उन अपराधों या घटनाओं की जांच पड़ताल करना अथवा करवाना एक दरोगा का दायित्व होता है। 

दरोगा कैसे बनें ( daroga kaise bane )

दोस्तों दरोगा बनना आसान नहीं होता है क्योंकि दरोगा बनने के लिए लाखों स्टूडेंट सालों से तैयारी करते हैं दरोगा बनने के लिए एक प्रोसेस होता है जिस को पूरा करने के बाद आप दरोगा बनते हैं। 

दरोगा बनने की प्रक्रिया में सबसे पहले आपका रिटन एग्जाम होता है वह जाम पास होने के बाद आपका इंटरव्यू फिजिकल मेडिकल आदि होता है जब आप सभी प्रक्रिया में पास हो जाते हैं तब आपको ट्रेनिंग के लिए बुलाया जाता है ट्रेनिंग पूरी हो जाने के बाद आपको किसी जिले की किसी पुलिस स्टेशन का प्रभारी अर्थात दरोगा बना दिया जाता है। 

दरोगा बनने की प्रक्रिया

  • आप जिस भी राज्य से दरोगा बनना चाहते हैं उस राज्य में निकलने वाली दरोगा की वैकेंसी के लिए ऑनलाइन आवेदन करें। 
  • आवेदन करने के बाद स्टूडेंट का एक रिटन एग्जाम लिया जाता है उस रिटन एग्जाम को पास करे।
  • रिटन एग्जाम पास होने के बाद आपको दौड़ के लिए बुलाया जाता है जिसमें आपको दौड़ को पूरा करना होता है।
  • दौड़ में पास होने के बाद आप को मेडिकल के लिए बुलाया जाता है जहां पर आपकी मेडिकल एवं फिजिकल जांच जैसे की हाइट, वेट, चेस्ट आदि की जांच की जाती है।
  • मेडिकल में पास होने के बाद आपके डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन कराए जाते हैं डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन होने के बाद आपको उस राज्य में दरोगा की पोस्ट पर नियुक्त कर दिया जाता है।


दरोगा बनने के लिए योग्यता

दोस्तों हमारी पोस्ट दरोगा कैसे बनें | daroga kaise bane  में अब हम आपको बताएंगे कि दरोगा बनने के लिए आपको निम्नलिखित गाइडलाइन का पालन करना होगा तभी आप दरोगा बनने के लिए आवेदन कर सकते है- 

  • दरोगा बनने के लिए आपका भारतीय नागरिक होना अनिवार्य है।
  • आप भारत के किसी भी विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट हो।
  • आपकी उम्र 21 वर्ष से 28 वर्ष के मध्य हो।
  • आप दरोगा बनने के लिए दी गई शारीरिक एवं मानसिक गाइडलाइन के अनुरूप हो।
  • आपके ऊपर किसी भी तरह का कोई अपराध दर्ज नहीं किया गया हो।

दरोगा बनने के लिए उम्रसीमा (  daroga banne ke lie age limit ) 

  1. जनरल वर्ग के कैंडिडेट की कम से कम उम्र 21 वर्ष एवं अधिकतम 28 होनी चाहिए। 
  2. ओबीसी वर्ग के कैंडिडेट की उम्र कम से कम 21 वर्ष एवं अधिकतम 33 वर्ष होनी चाहिए। 
  3. एससी/एसटी वर्ग के कैंडिडेट की उम्र 21 वर्ष से 33 वर्ष के मध्य होनी चाहिए। 


दरोगा बनने के लिए शारीरक मापदंड

दरोगा बनने के लिए पुरूष एवं महिलाओं की शारीरक मापदंडों को अलग-अलग निर्धारित किया गया है, जब कैंडिडेट दिए गए मापदंडों को पास कर लेता है तभी वह दरोगा बन सकता है। यह मापदंड कुछ इस प्रकार है। 

हाइट 

पुरुषों एवं महिलाओं के लिए हाइट अलग-अलग निर्धारित की गई है जो कि इस प्रकार है- 

दरोगा बनने के लिए पुरुषों की हाइट  

  1. पुरूष वर्ग में जनरल /ओबीसी/एससी/EWS वर्ग के कैंडिडेट की हाइट 168 सेमी निर्धारित की गई है।
  2. एसटी वर्ग के कैंडिडेट की हाइट 162 सेमी निर्धारित की गई है। 

दरोगा बनने के लिए महिलाओं की हाइट 

  1. महिला कैंडिडेट में जनरल /ओबीसी/एससी/EWS वर्ग के कैंडिडेट की हाइट  152 सेमी निर्धारित की गई है।
  2. एसटी वर्ग के कैंडिडेट की हाइट 147 सेमी निर्धारित की गई है। 


दरोगा बनने के लिए दौड़ 

दरोगा बनने के लिए पुरुषो एवं महिलाओं की दौड़ और उनके समय को अलग-अलग रखा गया है जो कि इस प्रकार है- 

पुरुषो के लिए

पुरुष कैंडिडेट में सभी वर्गों के पुरुषों को 28 मिनेट 4.8 किलोमीटर की दौड़ को पूरा करना होता है।

महिलाओं के लिए

महिला कैंडिडेट में सभी वर्गों की महिलाओं को 8 मिनेट में 1.6 किलोमीटर की दौड़ को पूरा करना होता है। 


दरोगा एग्जाम पैर्टन

दोस्तो दरोगा बनने के लिए होने वाले रिटन एग्जाम में आपसे चार (4) विषय से प्रश्न पूछे जाते है। 

  1. सामान्य हिंदी ( general hindi )
  2. मूल कानून/संविधान/सामान्य ज्ञान ( basis law/constitution/general knowledge ) 
  3. संख्यात्मक एवं मानसिक समस्या परीक्षण( numerical & mental ability test ) 
  4. मानसिक योग्यता परीक्षण/ बुद्धिलब्धि टेस्ट (mental amplitude test & intelligence quotient test ) 

इन सभी चारो (4) विषयों से 40- 40 प्रश्न पूछे जाते हैं अर्थात दरोगा बनने के लिए होने वाले एग्जाम में कुल प्रश्नों की संख्या 160 होती है तथा प्रत्येक प्रश्न 2.5 अंक का होता है।

इस पेपर को करने के लिए आपको 2 घंटे अर्थात 120 मिनट का समय मिलता है इस एग्जाम में नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है।

दरोगा बनने के लिए होने वाले पेपर में कुल प्रश्नों की सँख्या 160 होती है जो कि कुल 400 अंको का पेपर होता है।  


दरोगा एग्जाम सेलेबस ( SI exam syllabus in hindi)


सामान्य हिंदी ( general hindi )

  • हिंदी वर्णमाला
  • हिंदी व्याकरण
  • हिंदी एवं अन्य भाषा
  • पर्यायवाची शब्द
  • एकार्थी शब्द
  • विलोम शब्द
  • तत्सम एवं तद्भव 
  • उपसर्ग 
  • संधि समास
  • मुहावरे एवं लोकोक्ति
  • वाक्यांश शब्द निर्माण
  • रस
  • छंद 
  • अलंकार
  • लिंग
  • वचन
  • त्रुटि से सम्बंधित एकार्थी शब्द
  • वर्तनी
  • वाक्य संशोधन
  • प्रसिद्ध कवि एवं उनकी रचनायें
  • हिंदी भाषा के पुरुस्कार


मूल कानून/संविधान/सामान्य ज्ञान ( basis law/constitution/general knowledge ) 

  • ह्यूमन राइट
  • ट्रैफिक रूल
  • प्रिंसीपल ऑफ क्राइम पनिशमेंट 
  • राइट्स ऑफ सेल्फ डिफेंस
  • नेशनल सेक्युओरिटी इशू
  • जनरल नॉलेज अबाउट लॉ 
  • भारतीय संविधान का उद्देश
  • फंडामेंटल राइट्स
  • संविधान के बारे में सामान्य ज्ञान
  • डायरेक्टिव प्रिंसिपल
  • रूल्स एंड रेगुलेशंस ऑफ कंसीटूशन अमेंडमेंट
  • इन्फॉर्मेशन ऑफ सोशल लॉ रिलेटेड टू वोमेम एंड चिल्ड्रन
  • आल इंडिया सर्विस
  • रिज़र्वेशन ऑफ एससी/ एसटी
  • वाइल्ड लाइफ कन्वर्शन 


संख्यात्मक एवं मानसिक समस्या परीक्षण( numerical & mental ability test ) 

संख्यात्मक समस्या परीक्षण (numerical abilitytest )

  • नंबर सिस्टम 
  • सिम्पलीफिकेशन
  • HCM & HCF 
  • Used ऑफ टेबल एंड ग्राफ
  • डेसीमल एंड फ़्रेक्शन
  • कंपाउंड एंड सिंपल इंटरेस्ट
  • पार्टनरशिप
  • प्रॉफिट, लॉस एंड डिस्काउंट
  • मेंसुरेशन
  • परसेंटेज
  • अनुपात


मानसिक समस्या परीक्षण(  mental ability test ) 

  • लॉजिक चित्रण
  • कोडिफिकेशन presifation टेस्ट 
  • लैटर एंड नंबर सीरीज
  • एनलॉग
  • सिम्बोल रिलेशनशिप इंटरप्रिटेशन
  • वर्ल्ड फॉर्मेटिंग टेस्ट
  • वर्ड एंड अल्फाबेट्स
  • कॉमन सेंस टेस्ट
  • डायरेक्शन सेंस टेस्ट
  • The फोरसिफुलस टेस्ट
  • Determining इम्पलीमेंट menings
  • लॉजिक इंटरप्रिटेशन ऑफ डेटा
  • लैटर एंड नंबर कोडिंग


मानसिक योग्यता परीक्षण/ बुद्धिलब्धि टेस्ट (mental amplitude test & intelligence quotient test ) 


मानसिक योग्यता परीक्षण (mental amplitude test) 

  • कम्युअल हार्मोनी
  • क्राइम कंट्रोल
  • रूल एंड लॉ
  • लॉ एंड आर्डर
  • प्रोफेशनल इन्फॉर्मेशन ( बेसिक लेवल ) 
  • बेसिक लॉ
  • मेन्टल थौगन्स
  • पुलिस सिस्टम
  • जेंडर सेंसिविटी


बुद्धिलब्धि टेस्ट ( intelligence quotient test ) 

  • एनलॉग
  • सिमरेलोटी
  • विसुअल मेमोरी
  • डिस्क्रिमिनेशन
  • स्पेस visualiation
  • डिफ्रेंसस
  • ऑब्जरवेशन
  • रिलेशनशिप्स 
  • कॉन्सेप्ट 
  • प्रॉब्लम सॉल्विंग 
  • निर्णय छमता
  • जजमेंट

दरोगा की सैलरी 

दोस्तों दरोगा की सैलरी अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग होती है, सामान्यता एक दरोगा की सैलरी ₹36000 प्रति माह से लेकर ₹100000 प्रति माह तक होती है साथ ही इन्हें ₹ 4200 मासिक ग्रेड पे मिलता है।इसके साथ-साथ एक दरोगा को अन्य सरकारी सुविधाएं जैसे महंगाई भत्ता मेडिकल अन्य सरकारी सेवाएं मिलती है एक दरोगा की सैलरी काफी अच्छी मानी जाती है।

निष्कर्ष

दोस्तों यह थी हमारी पोस्ट दरोगा कैसे बनें | daroga kaise bane  अपनी इस पोस्ट के माध्यम से आपको दरोगा बनने की सारी जानकारी प्रदान की है आशा करता हूं आपको हमारी इस पोस्ट से सभी जानकारी मिल गई होगी अगर फिर भी आपके मन में दरोगा बनने से संबंधित कोई सवाल है तो कृपया हमें कमेंट अथवा मेल के माध्यम से अवश्य बताएं जिससे हम अपनी पोस्ट के माध्यम से आपको जवाब दे सकें दोस्तों अगर पोस्ट पसंद आई हो तो कृपया कमेंट करके अवश्य बताएं क्योंकि आपके कमेंट से हमें लिखने के लिए प्रोत्साहन मिलता है।



Disqus Comments